आपकी जीत में ही हमारी जीत है
  • //$(function () { // $(document).on('click', "#scartlink", function (e) { // e.preventDefault(); // //alert('scartlink test'); // $("#showmycartitems").stop().slideToggle("slow"); // if ($('.c-cart a').closest('a').prop('class') == '') { // $(".c-cart a").addClass("active"); // } // else { // $(".c-cart a").removeClass("active"); // } // }); // $(document).on('click', function (e) { // var container = $("div.c-cart"); // $("ul.sub-menu"); // if (!container.is(e.target) && container.has(e.target).length === 0) { // if ($('#showmycartitems').is(':visible')) { // $("#showmycartitems").stop().slideToggle("slow"); // } // // $('#showmycartitems').hide(); // } // }); //});

जश्न ए नेवज 06 अक्टूबर को राजगढ़ में

By CJ ?????? ???? ??????

*कला-साहित्य को समर्पित 'जश्न-ए-नेवज' का आयोजन ---------------------------------------------------* एल डी आर्ट अकादमी द्वारा राजगढ़ में 06 अक्टूबर, शनिवार को पहला कला और साहित्य समारोह आयोजित किया जा रहा है। ये समारोह स्थानीय युवाओं को साथ लेकर शहर के ऐसे लोगों द्वारा किया जा रहा है जो व्यवसाय के कारण अपने शहर राजगढ़ से दूर रहने चले गए। लेकिन उनकी आत्मा अपनी जन्म-भूमि से सदैव जुड़ी रही। जश्न-ए-नेवज अपनी जड़ों से जुड़े रहने की ऐसी ही एक सार्थक कोशिश है। इस समारोह में राजगढ़ से प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े प्रतिभावान कलाकरों को प्रस्तुत किया जा रहा है। इस हेतु राजगढ़ को कला-साहित्य के क्षेत्र में राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय पटल पर पहचान दिलाने वाले विभिन्न कलाकारों को आमंत्रित किया गया है। शाम 6 बजे से शुरू होने वाले इस कार्यक्रम में ध्रुपद गायन, ग़ज़ल प्रस्तुति, कवि सम्मेलन एवं कव्वाली शामिल है। आयोजन समिति के प्रमुख गुरुग्राम में कार्यरत राजगढ़ के मूल निवासी ईशान्त व्यास पुत्र श्री दिलीप कुमार व्यास हैं। उन्होंने बताया कि कोई शहर उसके क्षेत्रफल से नहीं बल्कि वहां मौजूद संभावनाओं से बड़ा या छोटा होता है। इस सोच से प्रभावित होकर नई पीढ़ी में कला और साहित्य के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए के ये अनूठी पहल की गई है। इसमें राजगढ़ में जन्मी आठ वर्षीय ध्रुपद गायिका विनी गुप्ता ध्रुपद गायन प्रस्तुत करेंगी। उल्लेखनीय है कि विनी के दादा जी श्री बंकट लाल गुप्ता राजगढ़ में ही निवास करते हैं। विनी भोपाल में कक्षा 3 में अध्ययनरत है और पद्मश्री गुंदेचा बंधुओं और मुकुंद देव जी से ध्रुपद सीख रही हैं। विनी अल्पायु में ही कई राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय संगीत सभाओं में प्रस्तुति दी चुकी हैं। जश्न-ए-नेवज के दूसरे कलाकार हैं ब्यावरा निवासी ग़ज़ल गायक दिवाकर मीणा। आकाशवाणी संगीत प्रतियोगिता के विजेता दिवाकर उभरते हुए ग़ज़ल गायक हैं। विभिन्न प्रतिष्ठित समारोह में प्रस्तुति दी चुके दिवाकर पंकज उधास, अनूप जलोटा, ऋचा शर्मा जैसे बड़े कलाकारों के साथ मंच साझा कर चुके हैं। जश्न-ए-नेवज में कवि सम्मेलन भी आयोजित किया जा रहा है जिसमें राजगढ़ के कवियों के साथ ही बाहर के कवियों को भी सुनने का मौका मिलेगा। इस समारोह के अंतिम भाग में राजगढ़ के खानदानी कलाकार कव्वाली पेश कर कार्यक्रम को सूफियाना रंग देंगे। इस कार्यक्रम के बारे में फेसबुक पेज @RajgarhLitFest से अधिक जानकारी प्राप्त की सकती है।

Download Our Free App